अप्रैल 06, 2017

एंड्रॉयड फोन चोरी हो जाने पर करें यह 5 काम !

कोई टिप्पणी नहीं :
हेल्लो दोस्तों ,
आज मैं आपको बतौगा की अगर आपका फ़ोन खो जाता है तो सबसे पहले क्या करना चाहिए बहुत दुख होता है जब आपका हर समय का साथी आपका मोबाइल फोन आपसे कोई चुरा ले जाए साथ ही एक डर रहता है कि कोई आपके मोबाइल फोन का गलत उपयोग ना कर ले।
फोन का बचाव इंसान हमेशा सजग रह कर ही कर सकता है, लेकिन एंड्रॉयड फोन चोरी हो जाने पर आपको क्या करना चाहिए :-
lost phone
1. ट्रैक माई फोन : अगर आपका एंड्रॉयड फोन खो गया है तो सबसे पहले इस फीचर का उपयोग करे। एंड्रॉयड स्मार्टफोन में ट्रैक माई फोन फीचर होता है जो चोरी हुए फोन की स्थिति जिसे आप लोकेशन भी कहते हैं बता देता है। यानि कि आपका फोन कहां है यह जानकारी ले सकते हैं। हालांकि इसके लिए जरूरी है फोन में आपने एंड्रॉयड डिवाइस मैनेजर को ऑन कर रखा हो। आपको बता दें कि यह एंड्रॉयड स्मार्टफोन में ईमेल आईडी इंटीग्रेट होने के साथ बाई डिफाल्ट ऑन हो जाता है। यह विकल्प एंड्रॉयड फोन की सेटिंग में मिलेगा। इसके लिए फॉलो करे यह स्टेप्स:-
स्टेप 1- सेटिंग में जाएं, स्टेप 2- सिक्योरिटी का चुनाव करें, स्टेप 3- डिवाइस एडमिनिस्ट्रेटर में जाएं, स्टेप 4- एंड्रॉयड डिवाइस मैनेजर को ऑन कर दें।
फोन खोने या चोरी होने की स्थिति में आप ट्रैक माई फोन फीचर का उपयोग वेब या किसी दूसरे मोबइल से कर सकते हैं।
2. दें चेतावनी : एंड्रॉयड डिवाइस मैनेजर में आप फोन उपयोकर्ता को चेतावनी भी दे सकते हैं। खोने या चोरी होने की स्थिति में उपयोगकर्ता को आप फोन वापस करने का मैसेज और अपना वैकल्पिक नंबर भी दे सकते हैं जिससे वह आपसे कॉन्टैक्ट कर सके।
3. डाटा करें नष्ट : यदि आपको लगता है कि आप अपने फोन को फिलहाल प्राप्त नहीं कर सकते या फिर किसी दूसरे के हाथ लग गया है तो यहीं से अपने एंड्रॉयड फोन के सभी डाटा को डीलिट कर दें, या यूं कहे मिटा दें। एंड्रॉयड डिवाइस मैनेजर में ही यह सर्विस भी उपलब्ध है। यह फीचर फोन डाटा को रिमोटली नष्ट कर देगा।
4. सिक्योर अकाउंट : आपके एंड्राइड स्मार्टफोन में जीमेल आईडी के अलावा सोशल नेटवर्किंग एप सहित कई अन्य निजी ईमेल अकाउंट होते हैं। ऐसे में फोन चोरी होने या खोने की स्थिति में आपको उन्हें भी लॉगआउट करना चाहिए। आप किसी दूसरे डिवाइस से लॉगिन कर लॉगआउट कर सकते हैं। वहीं जीमेल का पासवर्ड भी तुरंत बदल दें। जीमेल और फेसबुक सहित अन्य कई अन्य सेवाओं में वेब के माध्यम से आईडी पर लॉगिन कर साइन आउट ऑल अदर सेशन का विकल्प होता है।
5. सिम कार्ड ब्लॉक : इस तरह डिवाइस मैनेजर और सिक्योर यार अकाउंट के बाद अब कस्टमर केयर में कॉल कर अपना नंबर बंद करा सकते हैं।
आप समझ गए होंगे इस जानकारी को पसंद आये तो शेयर कीजिये और हमे फॉलो भी कीजिये !

कोई टिप्पणी नहीं :

एक टिप्पणी भेजें